Aparajita
Aparajita

महिलाओं के सशक्तिकरण की एक सम्पूर्ण वेबसाइट

मुंबई की रीजा अब्राहम यूके में 'कोरोना क्रिटिकल वर्कर हीरो' अवॉर्ड से सम्मानित 

Published - Sat 13, Jun 2020

रीजा को यह अवॉर्ड कोरोना के गंभीर मरीजों की लगातार अच्छे से देखभाल करने के लिए दिया गया है। उनकी एक डेढ़ साल की बेटी भी है। जिसे वह घर पर छोड़कर कोरोना के गंभीर बीमार मरीजों की देखभाल में लगी हैं।

Rija Abraham

कोरोना महामारी के दौर में हमारे स्वास्थ्यकर्मी, डॉक्टर और नर्स फ्रंटलाइन योद्धा के रूप में काम कर रहे हैं। सभी अपने घर परिवार से दूर रहकर 24-24 घंटे काम कर हैं। सभी डॉक्टर नर्स हम लोगों की जिंदगी बचाने के लिए अपनी जिंदगी दांव पर लगाकर काम कर हैं। ऐसी ही एक नर्स हैं रीजा अब्राहम। रीजा यूनाइटेड किंगडम के हार्लो शहर के एक अस्पताल में काम करती हैं। रीजा भारतीय मूल की हैं और मुंबई की मूल निवासी हैं। जिन्हें हाल ही में उनकी सेवाओं के लिए कोरोना क्रिटिकल वर्कर हीरो की अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है।
रीजा को यह अवॉर्ड कोरोना के गंभीर मरीजों की लगातार अच्छे से देखभाल करने के लिए दिया गया है। उनकी एक डेढ़ साल की बेटी भी है। जिसे वह घर पर छोड़कर कोरोना के गंभीर बीमार मरीजों की देखभाल में लगी हैं। जहां एक ओर उनकी बेटी को उनके प्यार की जरूरत है वहीं दूसरी ओर मरीजों को उनकी सेवा की। ऐसे में रीजा ने मरीजों की सेवा करने का फैसला किया। रीजा हार्लो, एसेक्स स्थित प्रिंसेज एलेक्जेंड्रा अस्पताल में कार्यरत हैं। गंभीर रोगियों की देखभाल करना उनका काम हैं। जिसमें वह अपना सर्वश्रेष्ठ दे रही हैं। इनकी सेवा को देखते हुए ही उनकों इस सम्मान से सम्मानित किया गया है। 
उनके सर्टिफिकेट में लिखा है, 'हार्लो, एसेक्स स्थित प्रिंसेज एलेक्जेंड्रा अस्पताल में स्क्रब नर्स के रूप कार्यरत रीजा अब आईटीयू नर्स के रूप में काम कर रही हैं। वह कोरोना के गंभीर बीमार मरीजों की जरूरी सेवा कर रही हैं। उनकी 1.5 साल की बेटी है जो घर पर है। वह लगातार रोगियों की देखभाल कर रही हैं और अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास कर रही हैं।'
रीजा का मानना है कि जिस प्रोफेशन को उन्होंने चुना है उसमें इस तरह का सर्घष तो होता ही है। स्वास्थ्य कर्मियों के लिए ड्यूटी पहले हैं बाकी सब बाद में।